ब्रेकिंग न्यूज़

भीषण सड़क हादसे में कार सवार यूपी पुलिस के तीन कर्मचारियों सहित 4 लोगों की दर्दनाक मौतग्वालियर - सीएम शिवराज सिंह चौहान ने गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ पर मत्था टेककर गुरु हरगोबिंद साहिब को किया नमनग्वालियर - कमलाराजा अस्पताल में बच्चों की मौत हाईकोर्ट सख्त, पांच दिन में सुधार के आदेशगुरू गोबिंद साहिब की प्रेरणा समाज के हर वर्ग के लिए प्रासंगिक - केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधियाभारतीय किसान यूनियन की सभी मांगों को मानकर तीनों काले कृषि कानून वापस ले सरकार - दिग्विजय सिंहकिसान संगठनों का दावा, ग्वालियर में बंद सफल रहा, हाथ जोड़कर कराया ग्वालियर बंद, जताया आमजन का आभारग्वालियर - सम्राट मिहिर भोज के संबंध में 4 अक्टूबर तक साक्ष्य व प्रमाण प्रस्तुत किये जा सकेंगेग्वालियर - लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान करना हमारा दायित्व है : केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधियाग्वालियर - केन्द्रीय मंत्री बनने के बाद ग्वालियर आगमन पर श्री सिंधिया का भव्य स्वागत, केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर सहित प्रदेश के मंत्री भी सम्मलित हुए स्वागत कार्यक्रमों मेंग्वालियर - दो आदतन अपराधी जिला बदर

ट्रांसपोर्टर को ट्रक की बॉडी बनाने वाली कंपनी ने 40 लाख रुपए की  लगाई चपत !

मध्य प्रदेश, GoonjMP Updated : Thursday, 22 Sep 2022

 

 

 

ग्वालियर में एक ट्रांसपोर्टर को ट्रक की बॉडी बनाने वाली कंपनी ने 40 लाख रुपए की चपत लगा दी। घटना पड़ाव थाना क्षेत्र केलक्ष्मीबाई कॉलोनी की है। पीड़ित ने कंपनी को अपने तीन ट्रक की बॉडी बनाने का ऑर्डर दिया था, जबकि उसने सिर्फ एक ही बॉडीबनाकर दी थी। ठगी का पता उस समय चला जब काफी समय बीतने पर भी ट्रक की बॉडी नहीं मिली। पुलिस ने पीड़ित की शिकायतपर कंपनी संचालक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।सीएसपी विजय भदोरिया ने मामले की जानकारीदेते हुए बताया कि पड़ाव थाना क्षेत्र के लक्ष्मीबाई कॉलोनी में रहने वाले केशव उपाध्याय पेशे से ट्रांसपोर्टर हैं। उनकी एलिवेशनललाॅजिस्टक्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फर्म है। वर्ष 2016 में केशव उपाध्याय ने महिन्द्रा कंपनी से तीन ट्रक हर्ष प्राइम मूवर्स से खरीदेथे, जिनकी बॉडी बनवाने के लिए उन्होंने काम फरीदाबाद हरियाणा की कंपनी मार्स इक्विमेंट्स इंडस्ट्रीज को सौंपा था। बॉडी बनाने केलिए एडवांस के तौर पर 20 लाख रुपए का केशव उपाध्याय ने पेमेंट भी कर दिया था। कंपनी ने उन्हें एक ट्रक की बॉडी बनाकर दे दीथी। इसके बाद कंपनी ने जल्द ही दोनों ट्रकों की बॉडी और बनाने का आश्वासन देते रहे, लेकिन काफी समय बीतने के बाद भी बॉडीबनाकर नहीं दी। ट्रांसपोर्टर केशव जब कंपनी के संचालक से ट्रकों की बॉडी के बारे में बात करते तो वह एक दो हफ्ते में बॉडी बनवाकरभेजने की बात कहकर टालते रहे। परेशान होकर ट्रांसपोर्टर थाने पहुंचा। जहां ट्रांसपोर्टर की शिकायत पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज करजांच शुरू कर दी है। वहीं, आरोपी कंपनी संचालक की जानकारी जुटाने के लिए एक टीम रवाना की है। जल्द ही आरोपी को पकड़लिया जाएगा।