ब्रेकिंग न्यूज़

भीषण सड़क हादसे में कार सवार यूपी पुलिस के तीन कर्मचारियों सहित 4 लोगों की दर्दनाक मौतग्वालियर - सीएम शिवराज सिंह चौहान ने गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ पर मत्था टेककर गुरु हरगोबिंद साहिब को किया नमनग्वालियर - कमलाराजा अस्पताल में बच्चों की मौत हाईकोर्ट सख्त, पांच दिन में सुधार के आदेशगुरू गोबिंद साहिब की प्रेरणा समाज के हर वर्ग के लिए प्रासंगिक - केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधियाभारतीय किसान यूनियन की सभी मांगों को मानकर तीनों काले कृषि कानून वापस ले सरकार - दिग्विजय सिंहकिसान संगठनों का दावा, ग्वालियर में बंद सफल रहा, हाथ जोड़कर कराया ग्वालियर बंद, जताया आमजन का आभारग्वालियर - सम्राट मिहिर भोज के संबंध में 4 अक्टूबर तक साक्ष्य व प्रमाण प्रस्तुत किये जा सकेंगेग्वालियर - लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान करना हमारा दायित्व है : केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधियाग्वालियर - केन्द्रीय मंत्री बनने के बाद ग्वालियर आगमन पर श्री सिंधिया का भव्य स्वागत, केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर सहित प्रदेश के मंत्री भी सम्मलित हुए स्वागत कार्यक्रमों मेंग्वालियर - दो आदतन अपराधी जिला बदर

1600 करोड़ का कारोबार:

1600 करोड़ का कारोबार:भोपाल में 600 करोड़ की गाड़ियां, 500 करोड़ की प्रॉपर्टी बिकेगी अगले 28 दिन तक बाजार रौनक से भरपूर रहेंगे

भोपाल7 घंटे पहलेलेखक: मनीष व्यास

दो साल बाद बाजार कोरोना महामारी से पूरी तरह उबरा, अच्छे मानसून ने खरीदारों का उत्साह बढ़ाया - Dainik Bhaskar

दो साल बाद बाजार कोरोना महामारी से पूरी तरह उबरा, अच्छे मानसून ने खरीदारों का उत्साह बढ़ाया

दिवाली फेस्टिव सीजन नवरात्रि के पहले दिन से शुरू हो रहा है। अब अगले 28 दिन तक बाजार रौनक से भरपूर रहेंगे। इसकी बड़ी वजह है- कोरोना से बाजार का पूरी तरह उबर जाना और अच्छे मानसून से खरीदारों का उत्साह बढ़ना। भोपाल के आर्थिक विशेषज्ञों, ऑटोमोबाइल डीलर्स, बिल्डर्स, व्यापारी संघों और बाजार जानकारों की मानें तो इस बार शहर में 1600 करोड़ रु. से ज्यादा का कारोबार होने का अनुमान है।

बाजार 2019 से बेहतर है। खरीदार खुलकर सामने आ रहे हैं। सबसे अच्छा समय रियल एस्टेट, ऑटोमोबाइल सेक्टर का है। दीपावली तक रियल एस्टेट में 500 करोड़ तो ऑटोमोबाइल में 600 करोड़ रु. के कारोबार का अनुमान है। कमाई वाले नौ सेक्टर में भरपूर खरीद-बिक्री होगी।

कहां-कैसी समृद्धि - 300 करोड़ के कपड़े, 150 करोड़ का किराना और 30 करोड़ के जेवर बिकने का अनुमान

ऑटोमोबाइल - 50% बुकिंग हुई
स्टॉक भरपूर, छह हजार गाड़ियां बिक सकती हैं। 30% कारों, 20% टू व्हीलर्स की बुकिंग। 500 करोड़ की कारें, 100 करोड़ की बाइकें बिकेंगी। बाकी बिक्री बड़ी गाड़ियों की रहेगी। ये 2021 से 40% ज्यादा।

रियल एस्टेट- 50 प्रोजेक्ट तैयार

भोपाल में 20 प्रमुख बिल्डर्स के 50 प्रोजेक्ट रेडी हैं। अब तक 20% एडवांस बुकिंग हो गई है। इस हिसाब से दिवाली तक रियल एस्टेट कारोबार 400 करोड़ पार करेगा।

इलेक्ट्रॉनिक - जबरदस्त बूम होगा

भोपाल में छोटे-बड़े 60 से 70 रिटेलर हैं। बड़ी टीवी, 500 ली. से बड़े फ्रिज की मांग ज्यादा। 125 से 150 करोड़ के कारोबार की उम्मीद। ये पिछले साल से 25 से 50 करोड़ तक ज्यादा होगी।

ज्वेलरी - खरीद 60% तक बढ़ेगी
इस बार खेती अच्छी है। डॉलर मजबूत होने से गोल्ड में निवेश बढ़ेगा। सीजन में 25 से 30 किलो सोने और 90 से 100 किलो चांदी के जेवर बिक सकते हैं। 25 से 30 करोड़ का कारोबार अनुमानित।

टेक्सटाइल - 300 करोड़ के कपड़े
पहले त्योहारी और बाद में शादी का सीजन रहेगा। इसलिए फेडरेशन ऑफ राज वस्त्र व्यवसाय संघ ने उम्मीद जताई है कि 35 से 40% कारोबार उछलेगा। करीब 300 करोड़ रुपए का कारोबार होने की संभावना है।

बैंकिंग - लोन डिमांड 50% बढ़ी
ज्यादातर लोन बिजनेस, स्टार्टअप, स्टडी के लिए आ रहे हैं। कई बैंक कम ब्याज ले रह हैं तो कई ने स्पेशल इंस्टेंट लोन की व्यवस्था की है। प्रोसेसिंग फीस में भी छूट है। कार लोन एक घंटे में दे रहे हैं।

स्वीट्स - 7 करोड़ तक की कमाई
भोपाल में 100 मुख्य दुकानें हैं। अन्य संघों को मिलाकर 500 दुकानें हैं। रोज औसत 10 लाख रु. की मिठाई व 5 लाख की नमकीन बिकती है। 28 दिन में 7-8 करोड़ की मिठाई, नमकीन बिक सकती है।

News : Monday, 26 Sep 2022

ठंड से हार्टअटैक और पैरालिसिस के मरीज बढ़े, भोपाल में 24 घंटे में 55 केस मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में हाड़ कंपा देने वाली ठण्ड बनी हुई है. भोपाल (Bhopal) में तापमान शिमला और जम्मू के बराबर पहुंच गया है. कड़ाके की ठंड के बीच भोपाल में एक नई चुनौती आ गई है. शहर में अचानक हार्टअटैक और पैरालिसिस के मरीजों की संख्या बढ़ गई है.

ठंड से हार्टअटैक और पैरालिसिस के मरीज बढ़े, भोपाल में 24 घंटे में 55 केस

मध्य प्रदेश में हाड़ कंपा देने वाली ठण्ड बनी हुई है. भोपाल में तापमान शिमला और जम्मू के बराबर पहुंच गया है. कड़ाके की ठंड के बीच भोपाल में एक नई चुनौती आ गई है. शहर में अचानक हार्टअटैक और पैरालिसिस के मरीजों की संख्या बढ़ गई है. 

News : Tuesday, 21 Dec 2021

मध्य प्रदेश में भोपाल कोरोना का हॉटस्पॉट बना

 मध्य प्रदेश में भोपाल कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है। पिछले 24 घंटे में 15 नए केस सामने आए हैं। इनमें सबसे अधिक 8 पॉजिटिव केस भोपाल में मिले हैं। लगातार छठे दिन भोपाल में सबसे अधिक केस मिले हैं। पिछले 6 दिन में मध्य प्रदेश में 88 केस मिले, जिसमें 54 केस भोपाल में मिले हैं। 60% से अधिक केस भोपाल में मिल रहे हैं। इंदौर में 6 दिन में 22 केस मिले हैं। 

News : Friday, 03 Dec 2021

भोपाल में नकली सैनिटाइजर फैक्ट्री पर पुलिस का छापा

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते आपदा में अवसर की तलाश करते बड़ी कंपनियों के नाम पर नकली सैनिटाइजर बनाने वाले गिरोह फिर सक्रिय हो गए हैं। राजधानी की पुलिस ने ऐसे ही एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मौके पर दबिश देते हुए सैकड़ों लीटरं नकली सैनिटाइजर जब्त कर लिया है. 

News : Wednesday, 01 Dec 2021

मरने वाले बच्चों की संख्या 7 होने की खबर

मुख्यमंत्री: उच्चस्तरीय जांच होगी, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा, मरने वाले बच्चों की संख्या 7 होने की खबर

उस समय फायर आग बुझाने वाले हाईड्रेंट और फायर एक्सटिंग्विशर काम कर रहे थे या नहीं, इसकी जांच की जाएगी। जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

News : Wednesday, 10 Nov 2021

भोपाल में बच्चों के अस्पताल में लगी भीषण आग

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल के चिल्ड्रेन वार्ड में आग लगने की घटना में चार मासूमों की दुखद मृत्यु हो गई। कई मासूम अभी भी घायल हैं। सरकार ने मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। वहीं राहत कार्य भी जारी है। इस बीच मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने भाजपा सरकार पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं

News : Tuesday, 09 Nov 2021

शिवराज सिंह चौहान का बेटियों के प्रति बड़ा ऐलान

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कॉलेज में दाखिला लेने वाली बेटियों को लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत अब 25,000 रूपये की राशि भी दी जाएगी बालिका के जन्म के प्रति जनता में सकारात्मक सोच, लिंग अनुपात में सुधार, बालिकाओं की शैक्षणिक स्तर एवं स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार तथा उनके अच्छे भविष्य की आधारशिला रखने के उद्देश्य से प्रदेश में एक अप्रैल 2007 में लाड़ली लक्ष्मी योजना शुरू की गई थी।

News : Wednesday, 03 Nov 2021

भारतीय किसान यूनियन की सभी मांगों को मानकर तीनों काले कृषि कानून वापस ले सरकार - दिग्विजय सिंह

भोपाल। केंद्र सरकार के किसान विरोधी तीन काले कानूनों के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन ने आज देश व्यापी बन्द का आव्हान किया था। इस भारत बन्द को सभी विपक्षी दलों ने समर्थन दिया। भोपाल की करोंद मंडी में भाकियू द्वारा आयोजित धरने प्रदर्शन में भारतीय किसान यूनियन के नेता, सीपीआई, सी.पी.एम. व काँग्रेस सहित अन्य दलों ने हिस्सा लिया। 

किसानों द्वारा किये गए भारत बंद के दौरान किये गए प्रदर्शन में सम्मिलित हुए किसानों को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी चुनाव में जिस घोषणा पत्र के आधार पर चुनी गई उसमें इन कानूनों का कोई उल्लेख ही नहीं था। इन किसान विरोधी कानूनों के बारे में और उसे लागू करने के पहले किसी भी किसान संगठन कोई चर्चा तक नहीं की गई थी। ये तीनों कानून एक साथ इसलिए लाये गए क्योंकि इस देश में कृषि उत्पादों का 15 से 18 लाख करोड का जो व्यवसाय होता है उसमें बड़ा व्यापरी इसलिए नहीं आ पाता क्योंकि उसेे हर मण्डी में जाके अपना लाईसेंस लेना पडेगा। मोदी सरकार ने उद्योगपतियों को फायदा देने के लिए ये कानून लागू कर दिया कि एक लाईसेंस ले लो और देश भर में कहीं से भी आप अपना ऑनलाईन ट्रेडिंग कर सकते हो याने कि सरकारी मंडियां समाप्त हो जाएगी। और उसके बाद फिर प्राईवेट मण्डी खोलने का भी इन्होने प्रावधान किया है। पूर्व सीएम ने कहा कि जब गांधी जी चंपारण में आंदोलन कर रहे थे तब ब्रीटिश हुकूमत में भी किसानों को अदालत में जाने का अधिकार था। लेकिन इन तीनो काले कानून में किसानों का अदालत जाने का अधिकार नही है। यदि कोई उनका माल खरीदकर पैसा नहीं देता है तो वे अदालत में नहीं जा सकते। अदालत में नही जा सकने का मतलब सरकार ने किसानों के मौलिक अधिकार को ही छीन लिया है इसलिए हम इन कानूनों का विरोध करते हैं। 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरी बात ये है की जब प्रतिस्पर्धा खत्म हो जायगी तो किसानों को उसकी उपज का माल सस्ते में बेचना पडेगा जैसा कि बताया गया अभी कि जब मिनिमम सपोर्ट प्राईज सरकार देती है तब एक कीमत होती है जिस दिन न्यूनतम मूल्य खरीद खत्म हो जाती है उस दिन भाव तीन-तीन, चार-चार सौ रूपये टोटल कम हो जाती है ये भी एक बहुत बडा भ्रष्टाचार है कि जब किसान की फसल आती है तो बाहर से, विदेशों से आयात शुरू हो जाता है अब जैसा कि हमारे पूर्व वक्ता ने बताया इम्पोर्ट ड्यूटी आज से पांच दिन पहले इन्होने आयात के तेल पर कम की है तो उसका लाभ किसे मिलेगा उसका लाभ उपभोक्ता को नहीं मिलेगा उसका लाभ मिलेगा आयात करने वाले को और पेक्ड माल बेचने वाले को। 

दिग्विजय सिंह ने कहा कि मैं किसान संगठनों से अनुरोध करूंगा कि राजनैतिक पार्टियों को आमंत्रित करिये और भाजपा को भी आमंत्रित करिये लेकिन राजनैतिक पार्टियों से परहेज मत करिये राजनैतिक पार्टियां भी किसानों के हक़ की लडाई लड रहे हैं और इसलिए उनके साथ मंच साझा करने में आपको एतराज नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसान और मजदूर की लडाई में न कांग्रेस पीछे हटी है और न ही कभी हटेगी, ये मैं आज आप सब को आश्वस्त करना चाहता हूँ।  मैंने तो हमेशा इस बात की कोशिश की है कि हम लोग सब मिलकर काम करें क्योंकि आज प्रश्न इस बात का नहीं है कि सरकार भाजपा की बने या किसी और कि बने। प्रश्न इस बात का है की सरकार ऐसी  हो जो कम से कम गरीब की हो, मज़दूर की हो, किसान की हो, छोटे और मध्यम व्यापारी की हो। न कि बड़े-बड़े उद्योगपतियों की हो। राहुल गांधी ने ठीक कहा था कि ये मोदी-शाह सरकार, सूट-बूट की सरकार है मतलब बड़े बड़े उद्योगपतियों की सरकार है इसलिए हम इन काले कानूनों का विरोध करते हैं।

भारत बंद के दौरान हुए इस प्रदर्शन में भारत किसान युनियन के संगठन के अनिल यादव, सीपीआई के कॉमरेड शैलेन्द्र शैली, किसान सभा के निर्मल लाल बैरागी, सीपीएम के कॉमरेड जसबिन्दर और कांग्रेस के नेताओं में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, जिला कांग्रेस के शहर अध्यक्ष कैलाश मिश्रा, ग्रामीण अध्यक्ष अरुण श्रीवास्तव, प्रदेश महामंत्री मनोज शुक्ला, पूर्व महापौर सुनील सूद सहित अन्य किसान नेता व विपक्षी दलों के अन्य कार्यकर्ता गण उपस्थित थे।

News : Monday, 27 Sep 2021

उमा भारती बोलीं - जागरूकता नहीं, लट्ठ से होगी शराबबंदी

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने शराबबंदी को लेकर एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। उमा भारती ने शनिवार को मीडिया से चर्चा में कहा, ‘शिवराजजी और वीडी शर्माजी का मानना है कि जागरूकता अभियान से शराबबंदी की जा सकती है। मेरा मानना है कि यह बिना लट्‌ठ के नहीं होगा। मैं 15 जनवरी तक लोकतंत्र का पालन करूंगी। शराबबंदी के लिए जागरूकता अभियान चलाऊंगी। यदि फिर भी लोग नहीं माने तो सड़क पर उतर जाऊंगी।’
इससे पहले उमा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के काम की तारीफ की। उन्होंने कहा, मैंने शिवराज जी से कहा था कि अबकी बार की सरकार गांधी जी के आदर्शों पर चले। मैं जब मुख्यमंत्री बनी थी, तब घोषणा पत्र में नहीं डाला था कि शराबबंदी करेंगे, लेकिन यह मेरी आत्मा में था। मैंने अधिकारियों से कहा था कि रेवेन्यू के लिए अलग से रास्ता निकालें। भारती ने कहा कि कोरोना में यह देखा गया कि एक भी व्यक्ति शराब से नहीं मरा, क्योंकि दुकानें बंद थीं।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, मैं नवरात्रि से गंगा जी की यात्रा पर जाऊंगी। इसका अक्षय तृतीया पर गंगा सागर में विसर्जन होगा। इसके बाद शराबबंदी की मुहिम में जुट जाऊंगी। 15 जनवरी के बाद अभियान का नेतृत्व खुद करूंगी। मैं सड़क पर आ जाऊंगी। उमा भारती ने कहा कि इस अभियान से मध्यप्रदेश की सरकार मजबूत होगी। उन्होंने बिहार में नीतीश कुमार के शराबबंदी मॉडल की तारीफ की।
लट्‌ठ से शराबबंदी को लेकर पूछे सवाल पर उमा भारती ने सफाई दी कि लट्ठ से मेरा मतलब सख्त कानून से है। सख्त कानून सरकार कैसे लाएगी। वह जन दबाव को देखकर कानून लाएगी। लठ उठाने का काम किसी का भी नहीं होना चाहिए। पुलिस के कोरोना के समय लोगों को लट्ठ मारने का भी मैंने विरोध किया था। इसको लेकर मैंने अधिकारियों से भी चर्चा की थी। मेरा लट्ठ से मतलब था कि ताकत दिखा देना।
एक सवाल के जबाब में उमा भारती ने कहा कि मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनाव आते-आते निर्विरोध हो जाएंगे। ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में आने से कांग्रेस के पास कोई कैंपेनर नहीं बचा है। बीजेपी मध्यप्रदेश में निर्विरोध जीत की तरफ है।

News : Saturday, 18 Sep 2021

चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश की एक राज्यसभा सीट के लिए 4 अक्टूबर को उपचुनाव की घोषणा

भोपाल। चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश की एक राज्यसभा सीट के लिए 4 अक्टूबर को उपचुनाव की घोषणा कर दी। इसके साथ ही असम, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल की एक-एक सीट और तमिलनाडु की दो राज्यसभा सीटों पर उपचुनाव होगा। इसके नतीजे 4 अक्टूबर के दिन ही शाम को आ जाएंगे। थावरचंद गहलोत के इस्तीफे के बाद मध्य प्रदेश में राज्यसभा की एक सीट खाली हुई थी।

News : Thursday, 09 Sep 2021

प्रदेश समाचार

ट्रेंडिंग

इंदौर

भोपाल

ग्वालियर